Aarti

रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती : आरती कीजै श्री रघुवर जी की

श्री राम नवमी, विजय दशमी, सुंदरकांड, रामचरितमानस कथा और अखंड रामायण के पाठ में प्रमुखता से की जाने वाली आरती। रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती आरती...

श्री सूर्य देव – ऊँ जय सूर्य भगवान

श्री सूर्य देव भगवान/आरती: सूर्य देव ( Surya Dev) को ही संपूर्ण जगत की आत्मा तथा ब्रह्म के रूप में दर्शाया गया है. ज्योतिष शास्त्र...

Hanuman Ji Ki Aarti Trimurtidham (त्रिमूर्तिधाम: श्री हनुमान जी की आरती)

Hanuman Ji Ki Aarti Trimurtidham : Jai Jai Hanumat Baba Jai Hanumat Baba, Jai Jai Hanumat Baba । Ramdut Balvanta, Ramdut Balvanta, Sab Jan Man Bhava । Jai Jai Hanumat...

Om Jai Surya Bhagwan , Surya Aarti

Om Jai Surya Bhagwan Om Jai Surya Bhagwan, Jai Ho Dinkar Bhagwan। Jagat Ke Netra Swaroopa, Tum Ho Triguna Swaroopa। Dharat Saba Hi Tab Dhyan, Om Jai...

श्री भैरव देव जी आरती

भगवान भैरव भगवान शिव के एक अवतार हैं। भैरव शब्द का अर्थ है "भयानक"। वे शत्रुओं के लिए बहुत क्रोधी और अपने भक्तों के...

आरती: भगवान श्री शीतलनाथ जी (Arti Bhagwan Shri Sheetalnath Ji)

आरती: भगवान श्री शीतलनाथ जी ॐ जय शीतलनाथ स्वामी, स्वामी जय शीतलनाथ स्वामी। घृत दीपक से करू आरती, घृत दीपक से करू आरती। तुम अंतरयामी, ॐ जयशीतलनाथ स्वामी॥ ॥ ॐ जय...

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी: आरती (Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyama Gauri)

दुर्गा मां यह आरती दुर्गा मां को समर्पित है। हिंदू धर्म में, देवी दुर्गा, जिन्हें शक्ति या देवी के रूप में भी जाना जाता है,...

श्री हनुमान जी आरती || आरती कीजै हनुमान लला की ।

श्री हनुमान जी हनुमान जी भक्तों के संकट हरते हैं और श्री हनुमान जी की पूजा करने से कई लाभ होते हैं। जो भी व्यक्ति...

आरती: सीता माता की (Shri Sita Mata Aarti)

देवी सीता माता // Shri Sita Mata  Sita is a Hindu goddess and the heroine of the Hindu epic, Ramayana, and its other versions. She is described as...

Shri Hanuman Ji Ki Aarti (श्री हनुमान जी आरती)

Shri Hanuman Ji Ki Aarti || Aarti Kije Hanuman Lala Ki ॥ Shri Hanuman Stuti ॥ Manojavm maaruta tulyavegam, jitendriyam buddhimatam varissttha ॥ Vaatatmajam Vaanarayutha mukhyam, Shriiramdutam sharanam prapadye...

श्री सूर्य देव – जय जय रविदेव। (Shri Surya Dev – Jai Jai Ravidev)

आरती : श्री सूर्य देव - जय जय रविदेव। जय जय जय रविदेव, जय जय जय रविदेव। जय जय जय रविदेव, जय जय जय रविदेव॥ रजनीपति मदहारी,...

जय सन्तोषी माता: आरती (Jai Santoshi Mata Aarti)

सन्तोषी माता संतोषी माता या संतोषी मां हिंदू लोककथाओं में एक देवी हैं। वह भगवान गणेश की पुत्री थीं। उन्हें "संतुष्टि की माँ" के रूप...
- Advertisment -

Most Read

List of Famous temples in Andhra Pradesh

Andhra Pradesh is full of temples with each town having some very famous temples. We list some very important temples which are a must...

Hanuman Chalisa Lyrics and Meaning

Introduction: Hanuman Chalisa was written by one of the most famous saint-poet of ancient times, Goswami Tulsidas Ji,The Chalisa is a devotional hymn in praise...

108 Divya Shaktipeeth | 108 दिव्य शक्तिपीठ

प्रस्तावना भगवान शिव अथवा परमेश्वर सर्वशकिामान है और मां पार्वती (भगवती परमेश्वरी) उनको शक्ति हैं। यह सारा संसार शक्ति और शकिामान से आच्छादित है।...

Best time to visit Gangotri temple

The best time to visit the Gangotri temple is from April to June. September and October are also good months. Avoid months of July and...
0

Your Cart

    Product Price Quantity Total
Empty Cart
nothing

Your cart is empty

Your cart is empty