Karva Chauth (करवा चौथ)

करवा चौथ आरती ›› ओम जय करवा मैया

The festival falls on the fourth day after Purnima (a full moon) in the Kartika month of the Hindu calendar. This Purnima is very famous and called Sharad Purnima.

Karwa Chauth is a festival of great significance for the married Hindu women, especially in the North and Central parts of India. On this festival, the married women observe a ‘nirjalaa vrat’ (fast without water) from sunrise to moonrise for the safety and longevity of their husbands.

करवा चौथ के दिन जरूर पढ़े यह आरती, मां हो जाती हैं प्रसन्न ! पति की दीर्घायु होती है, दुख सारे हरती है ! 🪔 👩

ऊँ जय करवा मइया, माता जय करवा मइया ।
जो व्रत करे तुम्हारा, पार करो नइया ।।

ऊँ जय करवा मइया।

सब जग की हो माता, तुम हो रुद्राणी।
यश तुम्हारा गावत, जग के सब प्राणी ।।

ऊँ जय करवा मइया।

कार्तिक कृष्ण चतुर्थी, जो नारी व्रत करती।
दीर्घायु पति होवे , दुख सारे हरती ।।

ऊँ जय करवा मइया।

होए सुहागिन नारी, सुख सम्पत्ति पावे।
गणपति जी बड़े दयालु, विघ्न सभी नाशे।।

ऊँ जय करवा मइया।

करवा मइया की आरती, व्रत कर जो गावे।
व्रत हो जाता पूरन, सब विधि सुख पावे।।

ऊँ जय करवा मइया।

Read More: Karva Chauth 2021 , How to do Karva Chauth?

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*

code