रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती-2

श्री राम नवमी, विजय दशमी, सुंदरकांड, रामचरितमानस कथा और अखंड रामायण के पाठ में प्रमुखता से की जाने वाली आरती

रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती

आरती कीजै श्री रघुवर जी की,

सत चित आनन्द शिव सुन्दर की॥

दशरथ तनय कौशल्या नन्दन,

सुर मुनि रक्षक दैत्य निकन्दन॥

अनुगत भक्त भक्त उर चन्दन,

मर्यादा पुरुषोत्तम वर की॥

निर्गुण सगुण अनूप रूप निधि,

सकल लोक वन्दित विभिन्न विधि॥

हरण शोक-भय दायक नव निधि,

माया रहित दिव्य नर वर की॥

जानकी पति सुर अधिपति जगपति,

अखिल लोक पालक त्रिलोक गति॥

विश्व वन्द्य अवन्ह अमित गति,

एक मात्र गति सचराचर की॥

शरणागत वत्सल व्रतधारी,

भक्त कल्प तरुवर असुरारी॥

नाम लेत जग पावनकारी,

वानर सखा दीन दुख हर की॥

रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती अंग्रेजी में

Aarti Ki Jai Shri Raghubarji Ki।

Sat Chit Anand Shiv Sundar Ki॥

Dashrath-tanay Kaushila-nandan।

Sur-muni-rakshak Daitya-nikandhan॥

Read here: रघुवर श्री रामचन्द्र जी आरती अंग्रेजी में

आरती कीजे श्री रघुवर जी की mp3 डाउनलोड

Download link: https://drive.google.com/file/d/1dMLUF4fiYDNk-lElYT3uZlETRj4yD2S3/view

इस आरती से संबंधित खोजें:

Ram Chandra Ji ki Aarti ,Shree Ram Aarti , Shree Ram Aarti Lyrics , Ram Ji Ki Aarti , Rahuvar Arti

रघुवर श्री रामचन्द्रके बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रश्न : भगवान राम का आशीर्वाद कैसे प्राप्त करें?

जवाब: “राम” नाम का जाप करने से मनुष्य के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं !

प्रश्न : श्री राम चंद्र जी के जीवन से हमें क्या सीख मिलती है?

जवाब: गुरु-शिष्य, राजा-प्रजा, स्वामी-सेवक, पिता-पुत्र, पति-पत्नी, भाई-भाई, मित्र-मित्र के आदर्शों के साथ धर्मनीति, राजनीति, कूटनीति, अर्थनीति, सत्य, त्याग, सेवा, प्रेम, क्षमा, परोपकार, शौर्य, दान आदि मूल्यों का सुन्दर आदर्श हमें उनके जीवन से सीखने को मिलता है ।

विनम्र अनुरोध: पोस्ट अच्छी लगे तो कमेंट बॉक्स में लिखें जय श्री राम ! आपका दिन अच्छा हो जाएगा ! यकीन नही होता तो एक बार कोशिश जररूर करना !!

संबंधित आरती:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*

code