जय काली माता, माँ जय महा काली माँ।

रतबीजा वध कारिणी माता।

सुरनर मुनि ध्याता, माँ जय महा काली माँ॥

दक्ष यज्ञ विदवंस करनी माँ शुभ निशूंभ हरलि।

मधु और कैितभा नासिनी माता।

महेशासुर मारदिनी, ओ माता जय महा काली माँ॥

हे हीमा गिरिकी नंदिनी प्रकृति रचा इत्ठि।

काल विनासिनी काली माता।

सुरंजना सूख दात्री हे माता॥

अननधम वस्तराँ दायनी माता आदि शक्ति अंबे।

कनकाना कना निवासिनी माता।

भगवती जगदंबे, ओ माता जय महा काली माँ॥

दक्षिणा काली आध्या काली, काली नामा रूपा।

तीनो लोक विचारिती माता धर्मा मोक्ष रूपा॥

॥ जय महा काली माँ ॥

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*

code